Headline
सीएम धामी ने जन समस्याओं के त्वरित समाधान के लिये अधिकारियों को दिये निर्देश
दिल्ली में केदारनाथ मंदिर के प्रतीकात्मक निर्माण को लेकर तीर्थपुरोहितों में आक्रोश
अमरनाथ नंबूदरी बने श्री बदरीनाथ धाम के प्रभारी रावल
डोनाल्ड ट्रंप पर की गई गोलीबारी, एक शूटर को सीक्रेट सर्विस ने मार गिराया
बार-बार सर्दी जुकाम सिर्फ इम्युनिटी कमजोर होने के लक्षण नहीं बल्कि इन बीमारियों के हो सकते हैं संकेत
पैथोलॉजी लैब संचालिका के साथ दुष्कर्म के प्रयास के मामले में राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने लिया संज्ञान 
उपचुनाव में भाजपा को बड़ा झटका, जानिए 13 विधानसभा सीटों का फाइनल रिजल्ट
महासंघ ने कठुआ हमले में शहीदों की याद में किया वृक्षारोपण
देहरादून स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने जीता स्कॉच अवार्ड 2024

आईटीबीपी के चिकित्सक सीमान्त इलाके के ग्रामीणों को देंगे स्वास्थ्य सुविधा

वन भूमि हस्तांतरण, सीमान्त किसानों व बॉर्डर आउटपोस्ट के मुद्दे पर भी हुई चर्चा

देहरादून। आईटीबीपी के चिकित्सक सीमान्त गांवों के निवासियों को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराएंगे। मुख्य सचिव राधा रतूड़ी से शुक्रवार को आईटीबीपी महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने मुलाकात की। आईजी संजय गुंज्याल ने सीएस राधा रतूड़ी को बॉर्डर आउटपोस्ट की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया।

उन्होंने सीमांत जनपदों पिथौरागढ़, उत्तरकाशी और चमोली के जिलाधिकारियों से शीघ्र अनापत्ति प्रमाण पत्र प्रदान करने का अनुरोध किया ताकि वन भूमि हस्तांतरण के प्रकरणों का त्वरित निस्तारण हो सके। मुख्य सचिव ने आइटीबीपी को राज्य सरकार की ओर से हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया । मुख्य सचिव राधा रतूड़ी के आग्रह पर आईटीबीपी के चिकित्सकों द्वारा बॉर्डर के ग्रामीणों को स्वास्थ्य चिकित्सा सुविधा देने पर सहमति बनी |

बैठक में विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को स्वास्थ्य सुविधाएं देने तथा टेलीमेडिसिन के माध्यम से दुर्गम इलाकों को हेल्थ केयर से जोड़ने पर चर्चा की गई। आईजी संजय गुंज्याल ने जानकारी दी कि आईटीबीपी स्थानीय किसानों से प्रोक्योरमेंट करने का भी प्रयास कर रही है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top