Headline
शिक्षकों को सम्पूर्ण सेवा काल में एक बार मिलेगा संवर्ग परिवर्तन का मौका
पाकिस्तान के पूर्व मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने इण्डिया गठबंधन को दी शुभकामनाएं, कहा- सब चाहते है पीएम मोदी हारें…
उपराष्ट्रपति के उत्तराखण्ड दौरे की तैयारी को दिया फाइनल टच
सीएम धामी ने स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका
विक्रांत मैसी और मौनी रॉय स्टारर फिल्म ब्लैकआउट का दमदार टीजर हुआ रिलीज, 7 जून को जियो सिनेमा पर होगा प्रीमियर
मुख्यमंत्री के निर्देशों पर उत्तराखण्ड स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों के लिए जारी की अग्नि सुरक्षा एडवाइजरी
विपक्षी पार्टियों को सबक सिखाकर, भाजपा को समर्थन देगी जनता- सीएम
आप भी करवा रही हैं लिप फिलर? ये बात ध्यान रखें वरना होठों को हो सकता है नुकसान
बेसिक शिक्षकों के 3600 पदों पर होगी भर्ती

पैर पर पैर रखकर बैठते हैं तो हो जाएं सावधान, बिगड़ सकती है सेहत, ये आदत कर सकती है परेशान

पैर पर पैर रखकर बैठना बहुत से लोगों की आदत होती है। ऐसा करना उन्हें कंफर्टेबल लगता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा करना हानिकारक हो सकता है। एक पैर के ऊपर दूसरा पैर चढ़ाकर बैठने से पेल्विक एरिया में बोन एलाइनमेंट की समस्या हो सकती है। इससे ब्लड सर्कुलेशन भी प्रभावित हो सकता है। रिसर्च में पाया गया है कि क्रॉस लेग बैठने वालों में कई परेशानियां होती है. ऐसे में आइए जानते हैं क्रॉस लेग पोस्चर सेहत पर कैसे असर डालता है…

पैर पर पैर रखकर बैठने के नुकसान

हाई ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम
बीपी चेक करते समय दोनों पैरों को डॉक्टर जमीन पर रखने को कहते हैं. क्या आपने सोचा है कि ऐसा क्यों किया जाता है। दरअसल, जमीन पर दोनों पैर रखने से ब्लड फ्लो बेहतर रहता है। रिसर्च में पाया गया है कि पैर पर पैर रखकर बैठने से ब्लड प्रेशर टेम्पररी स्पाइक होने का जोखिम हो सकता है. ऐसा घुटनों से पैरों को क्रॉस करके बैठने से होता है।

वैरिकोज वेन्स की परेशानी
जब खून ब्लड वेन्स से गुजरते हुए हार्ट तक नहीं पहुंच पाते या पंपिंग होने के बावजूद ब्लड फ्लो में परेशानी होती है, तब वेन्स में ब्लड बैक फ्लो होने लगता है, इससे वैरिकोज वेन्स की समस्या हो सकती है. इसका असर शरीर के कई अंगों पर पड़ सकता है. ऐसा ब्लड क्लॉट की वजह से होता है। क्रॉस लेग करके बैठने से कई और समस्याएं हो सकती हैं।

प्रेगनेंसी में समस्या
हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अगर प्रेगनेंट महिलाएं क्रॉस लेकर करके बैठती हैं तो इस पोस्चर से उन्हें परेशानी हो सकती है। दरअसल, इस दौर में महिलाओं के शरीर में कई बदलाव होते रहते हैं. इनमें मसल्स क्रैम्प, पीठ दर्द काफी आम है. जब महिला पैर पर पैर रखकर बैठती है तब मां के साथ ही बच्चे को भी नुकसान पहुंच सकता है. इससे लेग क्रैंप, जॉइंट पेन जैसी दिक्कतें आ सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top