Headline
फिल्म शैतान का ट्रेलर रिलीज, आर माधवन की शैतानी चाल से परिवार को बचाते दिखे अजय देवगन
प्रखर राष्ट्रवादी संत थे जगद्गुरू स्वामी प्रकाशानंद- महाराज
सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द, जानें अब कब होगा एग्जाम
कारमांता शहर में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, चार पुलिस अधिकारियों की मौत
कांग्रेस और आप ने किया गठबंधन का ऐलान, जानें कहां और कितने सीटो पर तय हुई बात
…तो ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना की वजह से सूख रहे पहाड़ी जल स्रोत
राजकीय इंटर कॉलेज व बालिका इंटर कॉलेजों का होगा एकीकरण- डॉ. धन सिंह रावत
बालों की ग्रोथ को करना है फास्ट, तो अपनाएं ये नेचुरल तरीके
आतंक का पर्याय बने गुलदार को शिकारियों ने किया ढेर

अंतरराष्ट्रीय छात्रों की संख्या कम करेगा कनाडा, भारतीय छात्रों पर पड़ेगा बड़ा असर

टोरंटो। कनाडा उच्च शिक्षा के लिए देश में आने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों की संख्या को कम करने को तैयार है। अध्ययन वीजा में कटौती इस साल के अंत में होने की संभावना है। कोविड-19 महामारी के बाद, कनाडा ने 2023 में रिकॉर्ड 5,79,075 अध्ययन वीजा जारी किए। परिणामस्वरूप, अंतरराष्ट्रीय छात्रों की संख्या 2021 में 6,17,250 से बढक़र 2023 में 9,00,000 से अधिक हो गई। पब्लिक ओपिनियन ने देश के शहरी क्षेत्रों में आवास सामर्थ्य की समस्याओं के लिए उच्च आप्रवासन स्तर और अंतरराष्ट्रीय छात्रों को दोषी ठहराया है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, कनाडाई सरकार अध्ययन वीजा को स्थायी स्तर तक कम करने की योजना बना रही है।

वर्तमान में, विभिन्न कनाडाई प्रांतों में शैक्षणिक संस्थान किसी भी संख्या में अंतरराष्ट्रीय छात्रों को प्रवेश देने के लिए स्वतंत्र हैं। लेकिन अब, संघीय सरकार अंतरराष्ट्रीय छात्रों को जारी किए जाने वाले अध्ययन वीजा की संख्या तय करने और प्रत्येक प्रांत को एक निश्चित कोटा आवंटित करने की योजना बना रही है।

हालांकि, इस साल भारतीय छात्रों के लिए अध्ययन वीजा में 80 प्रतिशत से अधिक की भारी गिरावट आई है, लेकिन संख्या में कटौती का सबसे अधिक असर भारतीय छात्रों पर पड़ेगा। कनाडा में 3,40,000 से अधिक भारतीय छात्र हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top