Headline
महाराज ने दिये महाभारत ट्रेल को विकसित करने के निर्देश
सीमान्त मुनस्यारी पिथौरागढ़ व चम्पावत के लिए उड़ान भरेंगे हेलीकॉप्टर
रोज एप्पल जूस पिएंगे तो क्या होगा, सेब का जूस पीते वक्त बरतें ये सावधानियां
चारधाम यात्रा की तैयारियों में जुटा स्वास्थ्य महकमा
उत्तराखंड की बेटी ने राष्ट्रीय साहित्यिक मंच पर किया नाम रोशन
विवाह बंधन में बंधे रकुल प्रीत सिंह और जैकी भगनानी, सिख रीति रिवाजों से हुआ आनंद कारज
बद्रीनाथ धाम ने ओढ़ी बर्फ की सफेद चादर, रुक-रुककर बर्फबारी का दौर जारी
ब्लॉक प्रमुख ने कांग्रेस छोड़ी, भाजपा का दामन थामा
सभी बाधाएं दूर, शीघ्र शुरू होगा जमरानी बांध का निर्माण- महाराज

क्या आपको भी हो जाते हैं बार-बार छाले? तो हल्के में न लें, हो सकती हैं ये पांच गंभीर बीमारियां

वैसे तो मुंह में छाले होना एक सामान्य समस्या है, जो कई बार उटपटांग खाने से या पेट की खराबी से हो सकती है। लेकिन अगर आपको बार-बार मुंह में छाले हो जाते हैं और यह गले तक उतर आते हैं तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत है, क्योंकि यह मुंह के छाले कुछ गंभीर बीमारियों की ओर इशारा करते हैं, जिसे आपको बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। तो चलिए हम आपको बताते हैं उन पांच गंभीर बीमारियों के बारे में जो मुंह के छालों से संबंधित होती है।

हेलिकोबैक्टर पाइलोरी इन्फेक्शन
एच. पाइलोरी एक जीवाणु है जो पेट और छोटी आंत की परत को संक्रमित कर सकता है, जिससे अल्सर होते है।

गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स (जीईआरडी)
जीईआरडी एक ऐसी स्थिति है जहां पेट का एसिड बार-बार ग्रासनली में वापस चला जाता है, जिससे ग्रासनली की परत में जलन और संभावित अल्सर हो जाता है।

जोलिंगर-एलिसन सिंड्रोम
इस रेयर बीमारी में अग्न्याशय या गैस्ट्रिनोमा का विकास होने लगता है, जिससे पेट में एसिड का प्रोडक्शन बढ़ जाता है। बॉडी में एसिड पेट और छोटी आंत में कई अल्सर का कारण बन सकता है।

कैंसर
कई गंभीर मामलों में, अल्सर पेट या गैस्ट्रिनोमा के कैंसर से जुड़ा हो सकता है। अगर लंबे समय तक जलन और सूजन बनी रहती है, तो ये कैंसर सेल्स को बढ़ा सकती है। आमतौर पर मुंह और गले के कैंसर होने पर होंठ, तालु, मुंह के अंदर, जीभ, टॉन्सिल या गले के पीछे की ओर छाले या कैंसर की गांठे हो जाती है।

एनीमिया
जी हां, जिन लोगों को बार-बार मुंह में छाले होते हैं वह एनीमिक भी हो सकते हैं, क्योंकि विटामिन बी12 की कमी के कारण मुंह में जलन और बार-बार छाले हो जाते है। एनीमिया एक ऐसी स्थिति है, जिसमें शरीर में से खून की मात्रा कम होने लगती है और शरीर में रेड ब्लड सेल्स की कमी हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top